कोरबाः पति ने बेरहमी से की पत्नी की पिटाई.. अस्पताल पहुंचने से पहले तोड़ा दम.. घटना के बाद आरोपी था फरार.. पुलिस ने घेराबंदी कर आरोपी को किया गिरफ्तार

कोरबाः बांगों घरेलू विवाद को लेकर पति ने अपनी पत्नी को इस कदर पिटाई कर दी कि उसकी मौत हो गई. पुलिस को हत्या की सूचना मिलने पर हत्या की वारदात को अंजाम देने वाले पति को हिरासत में ले लिया है.
उक्त सूचना के आधार पर पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कीर्तन राठौर को घटना से अवगत कराया. जिस पर वरिष्ठ अधिकारियो के दिशा निर्देश पर तत्काल ही पुलिस अनुविभागीय अधिकारी रामगोपाल करियारे के नेतृत्व एवं मार्गदर्शन में गठित कर थाना प्रभारी रमेश पाण्डेय व स्टाफ को आरोपियो के छुपे होने के स्थान पर तत्काल पहुच कर घेराबंदी कर पकड़ने हेतु निर्देशित किया. उक्त निर्देश पर तत्काल ही टीम घटना स्थल पहुँचकर फरार आरोपी को घेरा बंदी धर दबोचा और पकड़ने में सफलता पाई.

मामला बांगो थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम मातीन का है. ग्राम पंचायत मातीन के आश्रित ग्राम लोड़ी यहां निवासरत सुंदरलाल कोल 16 जुलाई की देर शाम अपने घर पहुंचा और इस दौरान किसी बात को लेकर उसकी 32 वर्षीय पत्नी नंदकुमारी कोल से कहासुनी हो गई. देखते ही देखते दोनों पति-पत्नी में विवाद इतना बढ़ गया कि सुंदर ने नंद कुमारी की बेरहमी से पिटाई कर दी, जिससे वह बुरी तरह जख्मी हो गई और चल फिर नहीं पा रही थी.

नंद कुमारी कोल के बहनोई कोरिया जिला खंडगवा निवासी जय कुमार को 17 जुलाई को इसकी जानकारी मिलने पर वह मोटरसायकल से होकर ग्राम मतीन पहुंचा और नंद कुमारी कोल को अपने साथ खड़गवां अपने घर ले गया था. जहां अपने परिजनों की सलाह पर 18 जुलाई को उसे उपचार के लिए बिलासपुर ले जाया जा रहा था कि इसी बीच रास्ते कटघोरा में ही नंद कुमारी कोल ने दम तोड़ दिया. मृतिका का पति द्वारा लात , घूसा से कनपटी व पेट में मारपीट करने व पेट को पैर से कुचलने से अंदरूनी चोट व पेट में असहनीय दर्द होने से ईलाज हेतु बिलासपुर ले जाते समय कटघोरा के पहले रास्ते में ही मृतिका नंदकुमारी की मृत्यु हो गई थी
जिसके बाद उसके परिजन नंदकुमारी कोल के शव को लेकर ग्राम व मातीन पहुंचे और इस घटना की जानकारी बांगो पुलिस को दी सूचना मिलते ही बांगो पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और वैधानिक कार्यवाही के उपरांत मृतिका नंदकुमार कोल के पति सुंदरलाल को पुलिस ने घेराबंदी कर पुलिस ने हिरासत में ले लिया तथा न्यायिक रिमांड पर जेल भेज दिया.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button