दिलीप बिल्डकॉन कंपनी के गाड़ियों ने कुचला दो श्रमिकों को प्रशासन मौन

DBL कंपनी के जिम्मेदार लोगों पर दर्ज हो हत्या का आरोप, मृतकों के परिजनों को कंपनी 10-10 लाख मुआवजा व एक एक व्यक्ति को नौकरी दें : मोहित राम केरकेट्टा

कोरबा/चैतमा :- दिलीप बिल्डकॉन लिमिटेड कंपनी के ट्रेलर से कुचल कर दो मजदूरों के मौत मामले पर आज पाली तानाखार विधायक मोहित राम केरकेट्टा द्वारा घटना स्थल पर पहुंच कर घटित घटना की जानकारी ली इसकेे बाद मृतकों के परिजनों से मुलाकात करते हुए गहरी संवेदना व्यक्त की ,

बता दें कि कल डीबीएल कंपनी के ट्रेलर से कुचलकर कंपनी में कार्यरत दो मजदूरों की मौत हो गई थी दोनों मृतक पाली क्षेत्र के चैतमा के निवासी थे जिस पर गुस्साए लोगों ने कल दुर्घटनाकारित ट्रेलर पर आग लगा दी थी, मृतकों के परिजनों से मिलने पहुंचे विधायक मोहित राम केरकेट्टा ने कहा कि ऐसा प्रतीत हो रहा है कि जानबूझकर दोनों मजदूरों पर गाड़ी चढ़ा कर मार दिया गया है आरोप लगाते हुए कंपनी के जिम्मेदार लोगों पर हत्या का मामला दर्ज करने की बात कही, वही कंपनी के मैनेजमेंट को निर्देशित करते हुए मृतकों के परिजनों को दो दिवस के अंदर 10-10 लाख रुपए व मृतकों के परिजनों में से एक एक व्यक्ति को नौकरी देने निर्देशित किया । हालांकि मृतकों के परिजनों को तत्कालिक सहायता राशि 25 , 25 हजार रुपये दिये जा चुके हैं इसके साथ ही कंपनी की ओर से पांच-पांच लाख रुपए मृतकों के परिजनों को देने की घोषणा की गई है ।

कंपनी के ट्रेलर व हाईवा में नहीं है हेल्पर, विधायक ने नाराजगी व्यक्त करते हुए एसपी से कारवाही के लिए बात करने को कहा।

विधायक मोहित राम केरकेट्टा ने घटनास्थल पर पहुंचने के बाद घटना की जानकारी ली इसके बाद परिजनों से मुलाकात की परिजनों ने उनसे शिकायत करते हुए कहा कि कंपनी की एक भी गाड़ियों में हेल्पर (खलासी) नहीं है शायद दुर्घटना कारित ट्रेलर में हेल्पर होता तो हमारे बच्चों की जान बच सकती थी जिस पर विधायक ने कंपनी पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहां की इस मामले पर एसपी से कारवाही के लिए बात की जाएगी और नियम विरुद्ध चलने वाले ट्रेलर हाइवा सहित ट्रकों सहित सभी गाड़ियों पर कारवाही की जाएगी जिन पर ड्राइवर के साथ हेल्पर नहीं मौजूद होगा । वहीं उन्होंने कहा कि इस प्रकार गाड़ियों में हेल्पर ना रखना नियमों का उल्लंघन तो है ही साथ ही हेल्पर न रखने के कारण कहीं ना कहीं ऐसी घटनाएं घट जाती है और हेल्पर न रखकर कंपनी कहीं ना कहीं पैसों की बचत करते हुए लोगों को रोजगार से भी वंचित कर रही है । वही अपने बीच से बेटा, भाई खो चुके परिजनोंं का रो-रो कर बुरा हाल है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button