CGP NEWS केंद्र सरकार (Central government) लड़कियों की न्यूनतम उम्र सीमा (Minimum age of girls for marriage) में बदलाव करने का पुनर्विचार कर रही है|

पीएम मोदी ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लड़कियों के लिए शादी की न्यूनतम आयु में बदलाव के संकेत दिए हैं। माना जा रहा है कि अब लड़कियों की शादी की न्यूनतम उम्र 18 से बढ़ाकर 21 की जा सकती है। इससे लड़कियों के जीवन में कई बदलाव आएंगे। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि कई देश ऐसे भी हैं जहां लड़कियों के लिए शादी की कोई न्यूनतम उम्र सीमा नहीं है। तो वहीं, कई देशों में लड़कियों को शादी के लिए कम से कम 21 साल का होना अनिवार्य है। आइए, जानते हैं ऐसे देशों के बारे में…

​यहां शादी की कोई न्यूनतम उम्र नहीं

साऊदी अरब, यमन और जिबूती में लड़कियों की शादी की कोई न्यूनतम उम्र तय नहीं है।

15 साल या उससे कम है शादी की न्यूनतम आयु

ईरान में 13 साल, लेबनान में 9 साल और सूडान में युवावस्था की शुरुआत लड़कियों की शादी न्यूनतम उम्र है। वहीं चाड और कुवैत में 15 साल की उम्र पार कर लेने के बाद लड़कियों की शादी की जा सकती है।

​यहां 16-17 साल है शादी की मिनिमम एज

अफगानिस्तान, बहरीन, पाकिस्तान, कतर और यूके समेत दुनिया के सात देशों में लड़कियों की शादी की न्यूनतम उम्र 16 साल है। वहीं नॉर्थ कोरिया, सीरिया और उज्बेकिस्तान में शादी की न्यूनतम उम्र 17 साल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here