CGP NEWS छत्तीसगढ़ सरकार राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण के दौरान प्रत्येक बच्चे तक शिक्षा पहुंचाने के लिए ‘पढ़ई तुंहर पारा’ (पढ़ाई आपके मोहल्ले तक) योजना शुरू करेगी. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्वतंत्रता दिवस पर शनिवार को राजधानी रायपुर के पुलिस परेड मैदान में आयोजित मुख्य समारोह में ध्वजारोहण किया.इंटरनेट के अभाव वाले अंचलों के लिए ‘ब्लूटूथ’ आधारित व्यवस्था ‘बूल्टू के बोल’ का उपयोग किया जाएगा.पहले ‘पढ़ई तुंहर दुआर’ , अब ‘पढ़ई तुंहर पारा’ योजना शुरू 
इस दौरान उन्होंने जनता के नाम संदेश में कहा, लॉकडाउन के कारण प्रभावित शिक्षा को निरंतर जारी रखने के लिए हमने ऑनलाइन शिक्षा योजना ‘पढ़ई तुंहर दुआर’ शुरू की थी. जिसका लाभ 22 लाख बच्चों को मिल रहा है. दो लाख शिक्षक-शिक्षिकाएं इस व्यवस्था से जुड़े हैं.

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘इस पहल को आगे बढ़ाते हुए अब हम गांवों में समुदाय की सहायता से बच्चों को पढ़ाने के लिए ‘पढ़ई तुंहर पारा’ योजना शुरू कर रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here