बिलासपुर।CGP News: बिलासा कला मंच की ओर से 31वां बिलासा महोत्सव का आयोजन किया गया। इसमें वक्ताओं ने जहां आयोजन की सराहना की। वहीं लोक संस्कृति पर अपने विचार भी रखे।

इस दौरान मुख्य महापौर रामशरण यादव ने कहा कि हम सब केवल छत्तीसगढ़ी संस्कृति की बात करते हैं, लेकिन बिलासा कला मंच उस संस्कृति को जीती, अपनाती और संरक्षण भी करती है। मंच के माध्यम से हर वर्ष कई नवोदित कलाकारों को प्लेटफार्म मिलता है। डा.सोमनाथ यादव और उनके टीम के सभी सदस्यों के इस आयोजन की उन्होंने सराहना भी।

विशिष्ट अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष अरुण चौहान ने कहा कलाकारों का चयन और उसको सही दिशा देने में मंच हमेशा से प्रयास करते रही है। ये उनका सौभाग्य है कि वे इस कार्यक्रम को देख रहे हैं। इसमें कोई फूहड़ता नहीं और विलुप्त हो रही छत्तीसगढ़ी कलाओं को देखने का अवसर मिल रहा है।

कार्यक्रम के प्रारंभ में अतिथियों ने पूजा-अर्चना के साथ अतिथि स्वागत के बाद मंच के संस्थापक डा. सोमनाथ यादव ने बताया कि इस वर्ष 31 वां बिलासा महोत्सव मना रहे हैं।कोरोना प्रकोप और शासन के असहयोग के कारण इस वर्ष यह आयोजन केवल एक दिन का करना पड़ा है, जो पहले तीन दिन का खुले मंच पर होता था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here