पोंडीउपरोड़ा विकासखंड के ग्राम पंचायत तानाखार में उपसरपंच व पंचो का सरपंच साथ नही बैठ रहा तालमेल, भारी हंगामें के साथ स्थगित हुई ग्राम सभा…

गुरबक्श

Spread the love

सभा के दौरान हुआ विवाद,उपसरपंच के पिता पर महिलाओं ने बरसाई चप्पलें। •

 

कोरबा/पोड़ी उपरोड़ा-तानाखार:ग्राम पंचायत तानाखार में विवाद थमने का नाम नही ले रहा है दरअसल यहाँ उपसरपंच व पंचो का सरपंच के साथ तालमेल सही नही बैठ रहा है। लिहाजा अक्सर यहाँ विवाद की स्थिति बनी रहती है।बीते दिनों 16 पंचो सहित उपसरपंच के द्वारा सरपंच के खिलाफ अविश्वास प्रताव लाया गया था,जिसके तहत तय तिथि को चुनाव होना था,लेकिन सरपंच के अधिवक्ता ने एन मौके पर हाई कोर्ट से स्थगन आदेश प्रस्तुत कर पूरा माजरा ही पलट दिया था।जिससे उपसरपंच व पंचो में भारी आक्रोश बना हुआ है।

 

आज महात्मा गांधी जयंती पर ग्राम पंचायत तानाखार में ग्रामसभा की बैठक आहूत होनी थी,जिसमे शासन की महत्वपूर्ण योजनाओं के संबंध में ग्रामीणों को जानकारी दी जानी थी तथा ग्राम में विकास कार्यो को लेकर अहम चर्चा होनी थी।पर ग्रामसभा शुरू होने से पूर्व ही विवाद की स्थिति नजर आने लगी,दरअसल ग्राम पंचायत तानाखार में ग्राम सभा आयोजित होनी थी पर यहाँ के सरपंच राकेश सिंह कंवर द्वारा पूर्व के जर्जर ग्राम पंचायत भवन को लिपाई पोताई करवाकर ग्राम सभा के लिए तैयार करवा लिया था जिसमे ग्रामसभा आयोजित होनी थी,दूसरी तरफ ग्राम पंचायत भवन यानी भारत भवन में ग्रामसभा होनी थी ऐसा जिक्र किया जा रहा था जिसका प्रस्ताव बनाकर मुनादी करवाया गया था।जिस वजह कुछ ग्रामीण भारत भवन ग्राम पंचायत पहुचे और कुछ ग्राम पंचायत तानाखार भवन पहुँचे।मजे की बात यह रही कि भारत भवन ग्राम पंचायत में सचिव रनसाय यादव उपसरपंच शिवशंकर उइके व 16 पंचो सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे,वहीं ग्राम पंचायत तानाखार में सरपंच राकेश सिंह कंवर व गिने चुने पंचो सहित ग्रामीण उपस्थित रहे।

 

सरपंच राकेश कंवर ग्राम सचिव का सभा मे आने का इंतजार करते रहे लेकिन सचिव रनसाय यादव भारत भवन में ही रहे और भारत भवन में आयोजित सभा मे सरपंच के आने का इंतजार करते उपसरपंच व पंच थक चुके थे,पर दोनों ही तरफ से ऐसी परिस्थिति बनी रही कि ग्राम में दो गुट नजर आने लगे जो अपनी जिद पर अड़े रहे।जिस वजह से दोनों ही सभाएं अधूरी रह गई,जैसे जैसे समय बिता ग्राम पंचायत भारत भवन में जारी बैठक स्थगित हो गई।

 

दूसरी और ग्राम पंचायत तानाखार में सरपंच राकेश सिंह द्वारा जारी बैठक का शिलशिला देर शाम तक जारी रहा,इस दौरान सभा मे किसी कारण विवाद जैसी स्थिति निर्मित हो गई,देखते ही देखते माहौल इस कदर गरम् हो गया की आरोप प्रत्यारोप के साथ महिलाओं की झूमाझटकी नजर आने लगी,साथ ही महिलाओं ने उपसरपंच के पिता पर चप्पलें तक बरसा डाली।ग्राम सभा मे इस तरह की घटना अपने आप मे बेहद ही शर्मनाक रही,यह पूरा वाक्या NH 130 से लगे ग्रामपंचायत भवन के पास जारी था जहां सैकड़ो की संख्या में भीड़ जमा थी और तेज रफ्तार वाहनों की आवाजाही भी जारी थी,जरा सी भी असावधानी किसी बड़े हादसे को अंजाम दे सकती थी।

 

*आखिर क्या है विवाद का कारण?*

दरअसल यहाँ वर्तमान सरपंच राकेश कंवर की कार्यशैली से उपसरपंच शिवशंकर उइके व पंचो में खाशी नाराजगी बनी हुई है, और ये सरपंच को हटाने के लिए अविश्वास प्रस्ताव लेकर आये थे जिसका चुनाव हाई कोर्ट के स्थगन आदेश पर होते होते रुक गया था।आज ग्रामसभा की बैठक होनी थी जो कि उपसरपंच सचिव व पंचो तथा सरपंच की खींचातानी के वजह से स्थगित हो गई।बाद में स्थिती विवादित हो भी गई।इन सबके बीच उपसरपंच की लोकप्रियता भी बड़ी वजह बताई जा रही है जिसके पीछे 16 पंचो सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण है।

 

*पंचायत के विवादित रवैये से ग्रामीणों को नही मिल पा रही शासन के योजनाओं की जानकारी*

 

चुनाव होने के बाद से ग्राम पंचायत तानाखार में विवाद जैसी स्थिति बनी हुई है।यहाँ वर्तमान सरपंच की कार्यशैली सवालिया बनी हुई और उपसरपंच सहित पंच इनके विरोध में खड़े हैं।इन सबके बीच बैठक आहूत नही होने से सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं की जानकारी ग्रामीणों तक नही पहुँच पा रही है लिहाजा जानकारी के अभाव में ग्रामीण सरकार को कोसने पर आमादा है।

 

अगर पंचायत में यू ही स्थिति विवादित बनी रही तो आगामी दिनों में इसके दुष्परिणाम भी सामने आ सकते हैं जो कि भयावह भी हो सकते हैं लिहाज़ा जिला प्रशासन को इस ओर विशेष ध्यानाकर्षण करने की नितांत आवश्यकता है ताकि सरकार की योजनाएं ग्रामीणों तक आसानी से पहुँच सके।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button